Join WhatsApp Group 👉 Join Now

Vadhu Ka Shabd Roop | वधू का शब्द रूप संस्कृत में – Easy

आज हम Vadhu Ka Shabd Roop को जानेंगे व पढ़ेंगे। बहुत से बच्चे ऐसे शब्द रूप ढूंढते रहते है इसलिए हमने यह लेख आपके लिए तैयार किया है आप इस लेख के अंदर वधू का शब्द रूप संस्कृत में आसानी से पढ़ पाएंगे और भी अन्य शब्द रूप है जिन्हे आप जरूर देखें। तो चलिए पढ़ना शुरू करते है।

Join WhatsApp Group 👉 Join Now

Vadhu Ka Shabd Roop का अर्थ

“वधू” एक संस्कृत शब्द है जिसका मुख्य अर्थ “स्त्री” होता है। यह शब्द स्त्रीलिंग को संदर्भित करने के लिए प्रयुक्त होता है, और इसे विभिन्न विभक्तियों में परिवर्तित किया जाता है जिससे अर्थ में परिवर्तन होता है।

“वधू” शब्द के प्रमुख रूप होते हैं:

प्रथम पुंलिङ्ग – वधू: उपयुक्त होता है स्त्री की सीधी उपस्थिति को संदर्भित करने के लिए।
उदाहरण: वधू खड़ी है।

द्वितीय पुंलिङ्ग – वधूं: इस रूप का प्रयोग स्त्री के प्रति संबंध को दर्शाने में होता है।
उदाहरण: मैंने उस वधूं को देखा।

तृतीय पुंलिङ्ग – वधून्: इस रूप का प्रयोग स्त्री के साथ किए जाने वाले क्रियाओं में होता है।
उदाहरण: उसने वधून् को गोदी में लिया।

इस प्रकार, “वधू” शब्द के रूपों का उपयोग भाषा में स्त्री व्यक्ति के संदर्भ में किया जाता है और उसका अर्थ संदर्भ के अनुसार बदल सकता है।

Vadhu Ka Shabd Roop संस्कृत में

विभक्तिएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथमावधूःवध्वौवध्वः
द्वितीयावधूम्वध्वौवधूः
तृतीयावध्वावधूभ्याम्वधूभिः
चतुर्थीवध्वैवधूभ्याम्वधूभ्यम्
पंचमीवध्वाःवधूभ्याम्वधूभ्यः
षष्‍ठीवध्वाःवध्वोःवधूनाम्
सप्‍तमीवध्वाम्वध्वोःवधूषु
सम्बोधनहे वधु !हे वध्वौ !हे वध्वः !

Vadhu Ka Shabd Roop Pdf Download

यह भी पढ़ें: यत् शब्द रूप स्त्रीलिंग

Conclusion: तो दोस्तों उम्मीद है की आपको यह Vadhu Ka Shabd Roop संस्कृत पढ़ के अच्छा लगा होगा। ऐसी ही कुछ अन्य जानकारियाँ चाहिए तो हमें कमेन्ट कर के जरूर बताएं।

Quick Links –

होमपेजक्लिक करें
मात्राओं के शब्दक्लिक करें
Join TelegramJoin Now
Follow PinterestFollow

वधू शब्द का बहुवचन क्या होगा?

‘वधू’ शब्द का बहुवचन रूप ‘वधुएँ’ होगा। वधू का अर्थ स्त्री होता है।

वधू का स्त्रीलिंग क्या होता है?

भारत में शादी के लिये पुरुष जोडे को ‘वर’ की उपाधि दी जाती है,वधू स्त्रीलिंग है और वर पुलिंग है।

Leave a Comment

Popup AdSense Ad Example